Safar ki Dua | सफर की दुआ और इसकी की फ़ज़ीलत

Safar ki Dua
Rate this post

अस्सलामु अलैकुम दोस्तों आज के इस आर्टिकल मे हम आपको सफर की दुआ Safar ki Dua या सवारी पर सवार होते वक़्त  पढ़ी जाने वाली दुआ को बताएंगे। दोस्तों इस्लाम एक ऐसा मजहब है जो इंसान को खूबसूरत ज़िंदगी गुज़ारने का तरीका बताता है और हमारे नबी ऐ पाक सल्ल के बताए हुए तरीके पर चलकर हम अपनी दुनिया और (मर जाने के बाद) आखिरत दोनों को खूबसूरत बना सकते है।

इस्लाम ने इंसान के हर काम को शुरू करने का एक खास तरीका सिखाया है, जिसे हम सुन्नत तरीका कहते है और वो सुन्नत तरीका हमारे नबी ऐ पाक सल्ल से साबित है  | नबी सल्ल जब भी कोई काम करते तो सबसे पहले अल्लाह को याद करते  फिर कोई काम शुरू करते।

अक्सर हम लोग सफर करते है  लेकिन Safar ki Dua को पढ़ना भूल जाते है| अगर हम अपना सफर सुन्नत तरीके से  शुरू करे तो हमे बहुत फायदे हो सकते है। आप जब भी कभी सफर के लिए निकले चाहे मोटरसाइकिल से निकले चाहे किसी भी वाहन से निकले सफर की दुआ जरूर पढे। दुआ पढ़ने से ये  फायदा होगा कि आप अल्लाह की हिफाजत मे होंगे और हमारे नबी का तरीका भी हासिल होगा।

ये भी पढे – Namaz ke baad ki dua 

यह खास दुआ हमारे कुरान ऐ करीम से साबित है, जो पारह (25) की सूरह जुखरूफ़ मे है।

आप चाहे रेल , हवाईजहाज , कार , बाइक , साइकिल किसी भी सवारी से सफर करे लेकिन  Safar ki Dua जरूर पढे। सफर चाहे दूर हो या पास  हो सबसे पहले ताव्वुज और तसमिया यानि

اَعُوْذُ بِاللّٰهِ مِنَ الشَيْطَانِ الرَجِيْمِ

بِسْمِ اللّٰهِ الرَّحْمٰنِ الرَّحِيْمِ

पढ़ कर तीन मर्तबा सुब्हानल्लाह, तीन मर्तबा अल्हम्दुलिल्लाह और तीन मर्तबा अल्लाहु अकबर कहकर सवारी पर बैठ जाए और फिर एक मर्तबा  safar mein jaane ki dua पढे।

Safar ki Dua in Arabic

safar ki dua in arabic
safar ki dua in arabic

ُسُبْحَانَ الَّذِىْ سَخَّرَ لَنَا هٰذَا وَمَا كُنَّا لَهٌ مُقْرِنِيْنَ وَ اِنَّآ اِلٰى رَبِّنَا لَمُنْقَلِبُوْنَ

Tarjuma in hindi 

 अल्लाह तआला पाक है , जिसने इस सवारी को हमारे कब्जे मे दे दिया और इस की कुदरत के बगैर हम इसे कब्जे मे करने वाले न थे। बिला शुबा हम को अपने रब की तरफ जाना है।

बहुत से मुसलमान भाई बहन ऐसे है जिन्हे उर्दू (अरबी)पढ़नी नहीं आती है तो वे हिन्दी मे भी ये दुआ याद कर सकते है

Nazar Ki Dua

safar ki dua in hindi

सुब्हानल्लजी सख्ख़रा लना हाज़ा वमा कुन्ना लहू मुक़रिनीन व इन्ना इला रब्बिना ल मुन्कलिबून

safar ki dua in english

Subhanallazi sakhkhra lana haaza wama kunna lahoo muqrineen wa inna ila rabbina lamunqaliboon

जब आप सफर के लिए निकले तो अल्लाह की राह मे कुछ सदका खैरात देकर निकले  , सदका देने से अल्लाह तआला हर बला से हमारी हिफाजत फरमाते है और आने वाली हर परेशानी को हम से दूर करते है और अल्लाह सदका देने वालों के माल मे इजाफा फरमाते और उन्हे बहुत पसंद करते है। इसलिए सदका करने से पहले इस दुआ को पढ़ लेना चाहिए sadqa ki dua ये है।

    فِى سَبِىْ الِلّٰه

सफर की दुआ पढ़ने से पहले हमे घर से निकलने की दुआ को भी पढ़ना चाहिए जिससे अल्लाह तआला हमारी पूरे दिन हिफाजत फरमाते है अगर आपको घर से निकलने की दुआ नहीं पता है तो हम आपको यहां पर ghar se nikalne ki dua बता रहे है

بِسْمِ اللّٰهِ تَوَكّلْتُ عَلَى اللّٰهِ لاَ حَوْلَ وَ لاَ قُوَّةَ إِللاَّ بِللّٰه

safar ka irada karne ki dua 

जब आप कोई काम करते है तो सबसे पहले उसका इरादा करते है। इसी तरह जब सफर करने का इरादा हो तो आपको सफर के इरादे की दुआ भी पढ़नी चाहिए , जो हम आपको नीचे बता रहे है।

اَللّٰهُمَّ بِكَ اَصُوْلُ وَ بِكَ  اَحُوْلُ وَ بِكَ اَسِيْرُ

हिन्दी मे दुआ : अल्लहुम्मा बिका असूलु व बिका अहूलु व बिका असीरू

तर्जुमा : ऐ अल्लाह मै तेरी ही मदद से हमला करता हु ,तेरी ही मदद से उनको दूर करने की तद बीर करता हु और तेरी ही मदद से चलता हु

Corona Virus ki Dua

safar ki dua for car

Subhanallazi sakhkhara lana haaza wama kunna lahoo muqrineen wa inna ila rabbina lamunqaliboon

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.