Ashre ki dua in hindi – 1,2,3 तीनों अशरों की दुआ हिंदी में

ashre ki dua
Rate this post

Ashre ki dua in hindi एक ऐसी दुआएं जो अगर कोई इंसान पढ़ ले या मांग ले उसकी दुआ कबूल हो जाएगी, और खासकर अगर रोज़े की हालत मे इफ्तार पर बैठकर पढ़े. इसलिए आज हम आपके सामने ramzan ke ashre ki dua in hindi लाए हैं, जिसे आप पढ़कर रमज़ान की बरकत पा सकते हैं. 

हमने इस article मे ramzan ke teen ashre मे आपको सारे अशरों के बारे मे detail से बताया है हदीस, फायदे सब चीज. अगर आपको अशरे की पूरी जानकारी नहीं है तो आप दिए हुए link पर click करके जान सकते हैं.

तो चलिए पहले ashre ki dua से जुड़ी कुछ खास बातें जान लेते हैं कि आखिर ये ashre-ki-dua-in-hindi इतनी जरूरी क्युं है.

Ashre ki dua in hindi facts

जैसा कि मैंने बताया था आपको की रमजान के 30 दिनों को 10-10-10 दिनों मे बांट दिया गया है, जिसमें पहले 10 दिन को पहला अशरा, दूसरे दस दिन को दूसरा अशरा और तीसरे 10 दिनों को तीसरा अशरा कहा जाता है…

  • पहला अशरा रहमत का होता है, इसमे हम अल्लाह से उसकी रहमत की दुआ मांगते हैं, जिसे हम pehle ashrey ki dua in hindi कहते हैं. 
  • दूसरा अशरा होता है मगफिरत (गुनाहों की माफ़ी) का जिसमें हम अल्लाह से अपने गुनाहों की माफ़ी मांगते हैं, इस दुआ को हम dusre ashre ki dua in hindi कहते हैं. 
  • तीसरा अशरा होता है जहन्नम की आग से निजात पाने के, इस दुआ मे हम अल्लाह से आग से बचने की दुआ मानते मांगते हैं, और इसे teesre ashre ki dua in hindi कहते हैं.
  • आपको बता दूँ कि ऐसी कोई ashre-ki-dua नहीं है जो हदीस मे दी गई हो. लेकिन कई इस्लाम के जानकार लोगों ने कुछ दुआ बताई हैं जो हम इन तीन अशरों मे पढ़ सकते हैं. और अल्लाह से दुआ मांग सकते हैं इन्हें पढ़कर. 
  • एक हदीस मे अशरे का एक बयान है… जो कुछ इस तरह है… 

एक हदीस की मने तो सलमान फारसी (र.अ) ने बताया कि, प्यारे नबी सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने कहा: “रमज़ान एक ऐसा महीना है जिसकी शुरुआत रहम से है, इसका बीच माफ़ी है और इसका आखिर आग से फिरौती है”

तो चलिए एक-एक कर कर सभी ashrey ki dua hindi me देखे लेते हैं.

Ashre ki dua

जैसा मैंने बताया कि रमजान मे 3 अशरे होते हैं, रहमत, मगफिरत और आग से बचने का. और इन्हें पाने के लिए हम अल्लाह से दुआ करते हैं तीनों अलग-अलग अशरों मे…… 

तीन अशरों मे हम तीन अलग-अलग दुआएँ पढ़ते हैं और अपने मन की दुआ मांगते हैं.

Ramzan ke pehle ashre ki dua

रमजान के pehle ashre ki dua को हम 1-10 रमजान के बीच जब याद आ जाते तब पढ़ते हैं, और खास कर नमाज-कुरान पढ़ने के बाद. और तरावीह के बाद भी इसे पढ़ते हैं क्यूंकि इसे पढ़ने से अल्लाह की रहमत मजिल होती है. 

Ramzan ke pehle ashre ki dua in arabic text

ये है Ramzan ke pehle ashre ki dua in arabic text:- “وَقُل رَّبِّ ٱغْفِرْ وَٱرْحَمْ وَأَنتَ خَيْرُ ٱلرَّٰحِمِينَ”  

Ramzan ke pehle ashre ki dua in hindi text

ये है Ramzan ke pehle ashre ki dua in hindi text:- ” व कुर रब्बीग फिर वरहम व अंता ख़ैरुर राहीमीन” 

Ramzan ke pehle ashre ki dua in hindi meaning

ये है Ramzan ke pehle ashre ki dua in hindi meaning:- “और कहो, ऐ अल्लाह, माफ़ कर और रहम कर, और आप रहमत वालों में सबसे अच्छे हैं” 

Ramzan ke dusre ashre ki dua

रमज़ान के दूसरे अशरे की दुआ हम 11-20 रमजान तक पढ़ते हैं नमाजों और कुरान की तिलावत मे; नमाज के बाद या कुरान पढ़ने के बाद इस दुआ को पढ़ते हैं और जब भी याद आये की दूसरा अशरा चल रहा है, dusre ashre ki dua को पढ़ लें. 

Ramzan ke dusre ashre ki dua in arabic text

ये है Ramzan ke dusre ashrey ki dua in arabic text:- “أسْتَغْفِرُ اللهَ رَبي مِنْ كُلِ ذَنبٍ وَأتُوبُ إلَيهِ” 

Ramzan ke dusre ashrey ki dua in hindi text

ये है Ramzan ke dusre ashre ki dua in hindi text:- “अस्ताघफिरुल्लाह रब्बी मिन कुली ज़ाम्बियोन वा अतूबु इलैह” 

Ramzan ke dusre ashre ki dua in hindi meaning

ये है Ramzan ke dusre ashray ki dua in hindi meaning:- ” मैं अल्लाह से अपनी गुनाहों की माफ़ी माँगता हूँ जो मेरा रब है और मैं उसकी ओर मुड़ता हूँ” 

Ramzan ke teesre ashre ki dua

Ramzan ke teesre ashre ki dua भी कुछ इस्लाम के जानकार ने बताई है, जो हम 21-30-31 रमजान के बीच मे पढ़ सकते हैं जिसमें हम अल्लाह से अपने आप को आग से बचाने के लिए दुआ करते हैं. 

Ramzan ke teesre ashre ki dua in arabic text

ये है Ramzan ke teesre ashre ki dua in arabic text:- “اَللَّهُمَّ أَجِرْنِي مِنَ النَّارِ” 

Ramzan ke teesre ashre kii dua in hindi text

ये है Ramzan ke teesre ashre ki dua in hindi text:- “अल्ला हुम्मा अज़िरना मिनन नार” 

Ramzan ke teesre ashray ki dua in hindi meaning

ये है Ramzan ke teesre ashre ki duaa in hindi meaning:- ” ऐ अल्लाह, हमको आग से पनाह दे दीजिए”

51+ Powerful Islamic Dua List in Hindi

So Kar Uthne Ki Dua in Hindi

Qurani Islamic Dua

तो दोस्तों ये थीं ramzan ke ashrey ki dua जो हमने आपको आसान भाषा और तफ़सील से बताने की कोशिश की है, उम्मीद करते हैं कि आपको ये पोस्ट समझ मे और पसंद आया होगा; अगर हाँ, तो इस POST को अपने दोस्तों और घरवालों के साथ जरूर SHARE करें ताकि उन्हें भी अशरों की दुआ पता चल जाए. 

और हान, हमारे इस WEBSITE को BOOKMARK कर ले ताकि आप सभी को इस्लाम और रमज़ान से related ऐसी ही POST रोज़ाना मिलती रहे. 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.